Spotting
 Timeline
 Travel Tip
 Trip
 Race
 Social
 Greeting
 Poll
 Img
 PNR
 Pic
 Blog
 News
 Conf TL
 RF Club
 Convention
 Monitor
 Topic
 #
 Rating
 Correct
 Wrong
 Stamp
 PNR Ref
 PNR Req
 Blank PNRs
 HJ
 Vote
 Pred
 @
 FM Alert
 FM Approval
 Pvt
News Super Search
 ↓ 
×
Member:
Posting Date From:
Posting Date To:
Category:
Zone:
Language:
IR Press Release:

Search
  Go  
dark mode

Be a RailFan; learn how to enjoy your trip; enjoy your life.

Full Site Search
  Full Site Search  
FmT LIVE - Follow my Trip with me... LIVE
 
Sat May 28 13:13:10 IST
Home
Trains
ΣChains
Atlas
PNR
Forum
Quiz Feed
Topics
Gallery
News
FAQ
Trips
Login
Advanced Search

News Posts by Adittyaa Sharma

Page#    Showing 1 to 5 of 37992 news entries  next>>
Indian Railway News रायपुर (नईदुनिया प्रतिनिधि)। शादी के सीजन में 33 ट्रेनों के रद होने के बाद यात्रियों के लिए राहत भरी खबर है। 26 माह बाद अब यात्री जनरल टिकट लेकर एक्सप्रेस ट्रेन में सफर कर सकते हैं। रेलवे प्रशासन रायपुर से चलने वाली पांच एक्सप्रेस ट्रेन संपर्क क्रांति, सारनाथ एक्सप्रेस, दुर्ग जम्मूतवी, साउथ बिहार एक्सप्रेस और दुर्ग नौतनवा एक्सप्रेस में जनरल टिकट की सुविधा बहाल की है।
इन पांचों ट्रेनों में एक-एक जनरल कोच लगाने की व्यवस्था की गई है, जिसमें यात्री जनरल टिकट लेकर यात्रा कर सकेंगे। रेलवे से मिली जानकारी के अनुसार एक जुलाई से सभी ट्रेनों में जनरल टिकट की व्यवस्था शुरू हो जाएगी, वहीं पांच ट्रेनों में अलग-अलग तारीखों में यह सेवाएं शुरू की जाएंगी।
उल्लेखनीय
...
more...
है कि मुंबई-हावड़ा मार्ग पर स्थित रायपुर रेलवे स्टेशन से एक दिन में 112 ट्रेनें और करीब 50 हजार यात्री सफर करते हैं। कोरोना संक्रमण की रोकथाम के लिए रेलवे प्रशासन 20 मार्च, 2020 से जनरल टिकट लेकर यात्रा करने पर प्रतिबंध लगा दिया था।
जानिए कब से जनरल टिकट लेकर ट्रेन में कर सकेंगे सफर
- संपर्क क्रांति एक्सप्रेस में दो से 30 जून तक
- दुर्ग जम्मूतवी एक्सप्रेस में 14 से 28 जून तक
- सारनाथ एक्सप्रेस में एक से 30 जून तक
- साउथ बिहार एक्सप्रेस में एक से 30 जून तक
- दुर्ग-नौतनवा एक्सप्रेस में एक से 29 जून तक
Today (11:50) जिंदल स्टील रायगढ़ में बनाएगा रेल के पहिये, हंगरी से किया समझौता (www.naidunia.com)
IR Affairs
SECR/South East Central
0 Followers
1512 views

News Entry# 487504  Blog Entry# 5359294   
  Past Edits
May 28 2022 (11:50)
Station Tag: New Delhi/NDLS added by Adittyaa Sharma/1421836

May 28 2022 (11:50)
Station Tag: Raigarh/RIG added by Adittyaa Sharma/1421836
Stations:  Raigarh/RIG   New Delhi/NDLS  
Self reliant india: रायगढ़। देश की पहली और निजी क्षेत्र की एकमात्र रेल निर्माता कंपनी जिंदल स्टील एंड पावर ने रेल इन्फ्रास्ट्रक्चर उत्पादन क्षेत्र में एक बड़ी छलांग लगाई है। कंपनी यहां अपने स्टील प्लांट में देश की पहली रेल पहिया उत्पादन कारखाना लगाएगी। इस महत्वाकांक्षी योजना को अंजाम देने के लिए कंपनी ने जीआईएफएलओ-हंगरी के साथ एक समझौता किया है।
जिंदल स्टील के अधिकारियों के मुताबिक जीआईएफएलओ-हंगरी और जिंदल स्टील के बीच यह तकनीकी समझौता नई दिल्ली में हंगरी दूतावास एवं फिक्की के संयुक्त तत्वावधान में आयोजित “भारत-हंगरी बिजनेस फोरम” में हुआ। इसके अनुसार प्लांट की शुरुआती उत्पादन क्षमता 25 हजार सेट पहिया प्रतिवर्ष होगी।
जिंदल
...
more...
स्टील भारतीय रेल के लिए विभिन्न श्रेणियों की पटरियां तैयार कर आपूर्ति कर रही है। कंपनी देश की विभिन्न मेट्रो परियोजनाओं के लिए हेड हार्डेंड रेल भी तैयार कर रही है। रेल इन्फ्रास्ट्रक्चर विकास योजनाओं को आगे बढ़ाते हुए जिन्दल स्टील एसिमेट्रिक रेलों के लिए रेल फोर्जिंग यूनिट भी स्थापित कर रही है, जिसका इस्तेमाल रेल ट्रैक्स स्वीचेज, खासकर तेज रफ्तार ट्रेनों के संचालन में किया जाएगा।
जिन्दल स्टील एंड पावर के प्रबंध निदेशक वीआर शर्मा ने कहा कि उनकी कंपनी प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी द्वारा शुरू किए गए आत्मनिर्भर भारत अभियान में बढ़कर सहयोग करने के लिए प्रतिबद्ध है। रेल पहिया संयंत्र से भारतीय रेल के आधुनिकीकरण को गति मिलेगी। विश्वस्तरीय गुणवत्ता वाले पहियों की उपलब्धता से हम भारत सरकार के दूरदर्शी “गतिशक्ति अभियान” को साकार करने में एक महत्वपूर्ण साझेदार साबित होंगे।
एचटी हेड हार्डेंड रेल ग्रेड की एकमात्र भारतीय निर्माता
जिन्दल स्टील एंड पावर 1080 एचएच एवं 1175 एचटी हेड हार्डेंड रेल ग्रेड की एकमात्र भारतीय निर्माता है। ये पटरियां 25 टन से अधिक भार वहन की क्षमता रखती हैं और तेज रफ्तार दौड़ने वाली गाड़ियों के लिए उपयुक्त हैं। जेएसपी 60ई1, जेडयू1-60 और 60ई1ए1 मानदंडों के अनुरूप आर260 और 880 ग्रेड की पटरियों का भी निर्माण करता है और आर350 एचटी ग्रेड पटरियों का निर्यातक है।
Indian Railway News विलंब से चलने वाली पहली ट्रेन है बड़बिल से चलकर टाटानगर को आने वाली 08124 टाटानगर पैसेंजर अपने तय समय से 39 मिनट की देरी से चल रही है। अब यह ट्रेन सुबह 10 बजकर 10 मिनट के बजाए 10 बजकर 49 मिनट पर आएगी।
जमशेदपुर, जासं। चक्रधरपुर मंडल में टाटानगर सबसे व्यस्ततम स्टेशनों में से एक है। यहां से हर दिन 25 से 30 यात्री ट्रेनों की आवाजाही होती है। शनिवार को यहां से गुजरने वाली छह ट्रेन अपने तय समय से विलंब से चल रही है।
पैसेंजर ट्रेन
...
more...
भी देरी से चल रही है
विलंब से चलने वाली पहली ट्रेन है बड़बिल से चलकर टाटानगर को आने वाली 08124 टाटानगर पैसेंजर अपने तय समय से 39 मिनट की देरी से चल रही है। अब यह ट्रेन सुबह 10 बजकर 10 मिनट के बजाए 10 बजकर 49 मिनट पर आएगी। वहीं, रांची से चलकर हावड़ा को जाने वाली 22892 हावड़ा इंटरसिटी सुपरफास्ट एक्सप्रेस भी 14 मिनट की देरी से चल रही है। अब यह ट्रेन सुबह 10 बजकर 50 मिनट के बजाए 11 बजकर 14 मिनट पर आएगी। इसके अलावा आसनसोल से चलकर टाटानगर को आने वाली 08173 आसनसोल टाटा मेमू 11 मिनट की देरी से चल रही है। अब यह ट्रेन दोपहर एक बजकर 30 मिनट के बजाए एक बजकर 41 मिनट पर आएगी।
इस्पात एक्सप्रेस भी देरी से चल रही है
कंटाबाजी से चलकर हावड़ा को जाने वाली 12872 हावड़ा इस्पात एक्सप्रेस भी 23 मिनट की देरी से चल रही है। अब यह ट्रेन दोपहर एक बजकर 45 मिनट के बजाए दो बजकर आठ मिनट पर आएगी। वहीं, दानापुर से चलकर टाटानगर को आने वाली 18123 टाटानगर सुपर एक्सप्रेस भी छह मिनट की देरी से चल रही है। अब यह ट्रेन शाम पांच बजकर 15 मिनट के बजाए पांच बजकर 20 मिनट पर आएगी। इसके अलावा दुर्ग से चलकर भाया टाटानगर होते हुए राजेंद्र नगर टर्मिनल को जाने वाली 13287 साउथ बिहार एक्सप्रेस भी 22 मिनट की देरी से चल रही है। अब यह ट्रेन शाम छह बजकर 15 मिनट के बजाए छह बजकर 37 मिनट पर आने की संभावना है। जबकि योग नगरी ऋषिकेश से चलकर पुरी को जाने वाली 18478 कलिंग उत्कल एक्सप्रेस भी एक घंटे 36 मिनट की देरी से चल रही है। अब यह ट्रेन शाम छह बजकर 10 मिनट के बजाए सात बजकर 46 मिनट पर टाटानगर आने की संभावना है।
Today (11:13) असिस्टेंट लोको पायलट से करवाया जा रहा गार्ड का काम, 50 फीसदी पद किए सरेंडर (www.naidunia.com)
IR Affairs
WCR/West Central
0 Followers
1801 views

News Entry# 487502  Blog Entry# 5359236   
  Past Edits
May 28 2022 (11:13)
Station Tag: Jabalpur/JBP added by Adittyaa Sharma/1421836
Stations:  Jabalpur/JBP  
जबलपुर, नईदुनिया प्रतिनिधि। रेल प्रशासन द्वारा रेलवे के कर्मचारियों के विरुद्ध लिए जा रहे निर्णय और उनकी मांगों को नजरअंदाज करने को लेकर रेल यूनियन ने प्रदर्शन किया। डीआरएम कार्यालय में गेट मीटिंग के दौरान एम्पलाइज यूनियन ने रेल अधिकारियों पर कर्मचारी विरोधी नीतियों को महत्व देने का आरोप लगाया। इस दाैरान मंडल अध्यक्ष बीएन शुक्ला ने रेलवे बोर्ड की प्रशासनिक तानाशाही के खिलाफ प्रदर्शन करते हुए कहा कि मान्यता प्राप्त यूनियनाें से कोई बातचीत किए बिना असिस्टेंट लोको पायलट यानि सहायक इंजन ड्राइवर के कैडर के विरुद्ध उनसे गार्ड का काम कराया जा रहा है, जो किसी भी कीमत पर बर्दाश्त नहीं किया जाएगा।
इस दौरान मंडल सचिव रोमेश मिश्रा ने कहा कि इसका यूनियन विरोध करती है और अब
...
more...
इसको लेकर आर-पार की लड़ाई की जाएगी। 50 फीसदी नान सेफ्टी पदाें को सरेंडर किए जाने के तुगलकी फरमान का विरोध करते हुए कहा कि इसके लिए यूनियन हर स्तर पर लड़ाई लड़ेगी। इन पदों को किसी भी कीमत पर खत्म नहीं होने दिया जाएगा। उन्होंने मांग की कि मंडल के कैडर के कर्मचारियाें के लिए रेलवे बोर्ड द्वारा तय किए गए 20 और 80 अनुपात पर पदोन्नति के प्रस्ताव को जल्द से जल्द लेखा विभाग द्वारा शीघ्र किया जाये।
50 फीसदी नान सेफ्टी पद खत्म किए
इस दौरान सचिव ने बताया कि जबलपुर रेलवे स्टेशन और मंडल के अन्य स्टेशनाें पर ऑन ड्यूटी कर्मचारियाें के वाहनाें की नि:शुल्क पार्किग व्यवस्था नहीं की गई। रेलवे अपने कर्मचारियों से भी पार्किंग शुल्क वसूल रहा है। रेलवे प्रशासन द्वारा कर्मचारियाें से 150 रुपये प्रति माह के साथ जीएसटी की राशि स्टैंड ठेकेदार द्वारा वसूले जाने का कमर्शियल विभाग ने तुगलकी फरमान निकाला है। इसे भी वापस लिया जाएगा। हाल ही में रेलवे बोर्ड द्वारा 50 फीसदी नॉन सेफटी पदाें को समाप्त करने के आदेशाें को निरस्त किया जाए। एम्पलाइज यूनियन की गेट मीटिंग में मनीष यादव ने कहा कि समय रहते यदि कर्मचारियों की समस्याओं का समाधान नहीं हुआ तो उग्र आंदोलन किया जाएगा। इस अवसर पर संतोष यादव, कृष्णराज, रामभजन गुप्ता, मनीष शर्मा ने भी अपनी बात रखी। इस दौरान 300 से अधिक रेल कर्मचारी अपनी मांगों के पूरा कराने के लिए मौजूद रहे।
Today (11:11) Bhopal News: बैरागढ़कलां फाटक पर लग रहा ट्रैफिक जाम, स्वीकृति के बाद भी नहीं बना अंडरपास (www.naidunia.com)
Other News
WCR/West Central
0 Followers
1455 views

News Entry# 487501  Blog Entry# 5359234   
  Past Edits
May 28 2022 (11:11)
Station Tag: Bhopal Junction/BPL added by Adittyaa Sharma/1421836
Stations:  Bhopal Junction/BPL  
भोपाल, नवदुनिया प्रतिनिधि। निकटवर्ती ग्राम बैरागढ़कलां रेलवे फाटक के आसपास बार-बार जाम लग रहा है। इस क्षेत्र की आबादी लगातार बढ़ रही है। फाटक बंद होते ही वाहनों की लंबी कतार लग जाती है। इससे नागरिकों को परेशान होना पड़ रहा है। दो साल पहले भोपाल रेल मंडल ने यहां पर अंडरपास स्वीकृत किया था। रेल प्रशासन ने बैरागढ़ के फाटक क्रमांक 115 के साथ बैरागढ़कलां स्थित फाटक क्रमांक 114 पर अंडरपास स्वीकृत किया था। इसके लिए काम पूरा होने की समयसीमा 18 माह तय की गई थी। लेकिन कोरोना संकट के कारण काम शुरू नहीं हो पाया।
अब स्थिति सामान्य हो गई है। इसके बावजूद मामला अटका हुआ है। लगातार बसाहट को देखते हुए यह तय है कि भविष्य में बैरागढ़कलां
...
more...
क्षेत्र में आबादी बढ़ेगी। आबादी के साथ-साथ ट्रैफिक बढ़ना भी तय है1 ऐसे में यहां अंडरब्रिज या अंडरपास बनाने की सख्त जरूरत है। रेल सुविधा संघर्ष समिति के अध्यक्ष परसराम आसनानी का कहना है कि रेल प्रशासन को अपनी स्वीकृत योजना के अनुसार जल्‍द काम शुरू कर देना चाहिए।
बैरागढ़ में फ्लायओवर बनना तय
लोक निर्माण विभाग की सेतु शाखा ने बैरागढ़ फाटक रोड पर फ्लायओवर स्वीकृत किया है। इसके लिए क्षेत्रीय विधायक रामेश्वर शर्मा ने पिछले दिनों नागरिकों से सुझाव लिए। व्यापारियों ने यहां पर बिना ज्‍यादा तोड़फोड़ के ओवरब्रिज बनाने का सुझाव दिया। योजना के अनुसार जिन व्यापारियों की दुकानें टूटेंगी, उन्हें प्रस्तावित ब्रिज के नीचे ही दुकान के लिए जगह दी जाएगी। इस शर्त पर व्यापारी फ्लायओवर बनाने पर सहमत हो गए हैं। अब माना जा रहा है कि फाटक रोड पर अंडरपास के बजाय फ्लायओवर ही बनेगा, लेकिन बैरागढ़कलां में भी अंडर पास बनाने की जरूरत महसूस की जा रही है। यहां आबादी बढ़ने के साथ फाटक क्रास करने वाले वाहनों की संख्या तेजी से बढ़ रही है।
Page#    37992 news entries  next>>

Scroll to Top
Scroll to Bottom
Go to Mobile site
Important Note: This website NEVER solicits for Money or Donations. Please beware of anyone requesting/demanding money on behalf of IRI. Thanks.
Disclaimer: This website has NO affiliation with the Government-run site of Indian Railways. This site does NOT claim 100% accuracy of fast-changing Rail Information. YOU are responsible for independently confirming the validity of information through other sources.
India Rail Info Privacy Policy